Saturday, July 20, 2024

हिमाचल प्रदेश पॉवर कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने मनाया 16वां स्थापना दिवस

आपकी ख़बर, शिमला।

हिमाचल प्रदेश पॉवर कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने अपने कॉर्पोरेट कार्यालय में 16वां स्थापना दिवस मनाया। इस अवसर पर प्रबन्ध निदेशक डॉ अजय कुमार शर्मा ने पॉवर कॉर्पोरेशन का झण्डा फहराया। स्थापना दिवस के अवसर पर उन्होंने सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को कर्तव्यनिष्ठा से कार्य करने की शपथ भी दिलवाई। उन्होंने कहा कि निगम हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्य को पूर्ण कर ऊर्जा उत्पादन द्वारा प्रदेश की समृद्धि में कार्यरत है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2022 हमारे लिए उपलब्धि भरा रहा है इस वर्ष हमने बहुत प्रतीक्षित चंबा जिले में बनने वाली 48 मेगावाट क्षमता की चांजू-3 जल विद्युत परियोजना और 30.5 मेगावाट क्षमता की देवथल-चांजू जल विद्युत परियोजना के निर्माण के लिए निविदाएं आमंत्रित की और इसी माह 48  मेगावाट क्षमता की चांजू-3 जल विद्युत परियोजना निर्माण के लिए सिविल पैकेज-1 और 2 के कार्य आबंटित किए हैं। इन दोनों परियोजनाओं का शिलान्यास माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 13 अक्टूबर,2022 को चम्बा से किया गया। ये दोनों जल विद्युत परियोजनाएं फ्रेंच डेवलपमेंट एजेंसी एएफडी (AFD) से वित्तपोषित हैं, जिसके लिए भारत सरकार के साथ 80 मिलियन यूरो का समझौता ज्ञापन पहले ही हो चुका है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश पॉवर  कॉर्पोरेशन की 281 मेगावाट क्षमता की 4 परियोजनाएं परिचालनाधीन चरण में हैं। तीन परिचालनाधीन जल विद्युत परियोजनाओं और एक सौर परियोजना से इस वर्ष अच्छा विद्युत उत्पादन हुआ है, जिससे निगम को बढ़िया राजस्व प्राप्त हुआ है। 580 मेगावाट क्षमता की 2 परियोजनाएं क्रमशः काशंग स्टेज-2 और-3 जल विद्युत परियोजना (130 मेगावाट) और शोंगटोंग कड़छम जल विद्युत परियोजना (450 मेगावाट) का कार्य निर्माणाधीन चरण में है। शोंगटोंग कड़छम का निर्माण कार्य इस वर्ष संतोषजनक गति से अग्रसर हुआ है। डॉ अजय कुमार शर्मा ने कहा कि 40 मेगावाट क्षमता की रेणुका जी बांध परियोजना के निर्माण के लिए भी पिछले एक वर्ष में गति आई है। यह परियोजना भारत सरकार के जल संसाधन मंत्रालय की तकनीकी एडवाइजरी कमेटी द्वारा पहले ही अनुमोदित की जा चुकी है। हरित ऊर्जा उत्पादन में वृद्धि के लिए 200 मेगावाट क्षमता के सौर ऊर्जा प्रोजेक्ट्स स्थापित करने के लिए निगम दृढ़संकल्प है। इसके लिए 720 करोड़ रूपये की राशि वर्ल्ड बैंक के सहयोग से  प्राप्त होगी, जिसके लिए वित्तीय संस्था ने हामी भर दी है। 191 मेगावाट क्षमता की थाना प्लॉन जल विद्युत परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट भारत सरकार के केंद्रीय विद्युत आयोग ने अनुमोदित कर दी है और और इस परियोजना को भी हम निर्माण चरण में ले जाने के लिए प्रयासरत है। हिमाचल प्रदेश पॉवर कॉर्पोरेशन ने अपनी पुनर्वास एवं पुनर्स्थापन योजना और कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व पॉलिसी बनाई है, जिसका अनुपालन सभी निर्माणाधीन परियोजनाओं में किया जा रहा है। इस अवसर पर मुकेश रेपस्वाल निदेशक कार्मिक एवं वित्त, सुरेंदर कुमार निदेशक सिविल, राकेश चंद नेगी डीजीएम इलेक्ट्रिकल कॉन्ट्रैक्ट एवं अन्य अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे। 

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts