Friday, April 19, 2024

शिमला ग्रामीण के बेरोजगारों से किया वायदा भूले मंत्री विक्रमादित्य सिंह

  • शिमला ग्रामीण के बेरोजगारों से किया वायदा भूले मंत्री विक्रमादित्य सिंह
  • चुनावी माहौल में शिमला ग्रामीण में 5 हजार लोगों को रोजगार देने का किया था वायदा
  • दस माह में रोजगार तो नहीं मिला पर 70 लोगों से छिनी गई नौकरी
आपकी खबर, शिमला। 20 नवंबर
शिमला। लोक निर्माण विभाग के मंत्री एवं शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के विधायक विक्रमादित्य सिंह अपना वायदा भूल गए हैं। चुनाव प्रचार के दौरान उन्होंने शिमला ग्रामीण क्षेत्र में 5 हजार रोजगार उपलब्ध करवाने का विश्वास दिलाया था।
 कांग्रेस सरकार के कार्यकाल का समय 10 माह से अधिक हो गया है, लेकिन क्षेत्र में मंत्री की ओर से एक भी बेरोजगार युवा को रोजगार उपलब्ध नहीं करवाया गया। ऐसे में बेरोजगार युवाओं में मंत्री विक्रमादित्य सिंह के प्रति बहुत रोष व्याप्त है। यह रोष लाजमी इसलिए भी है, क्योंकि कांग्रेस सरकार ने नौकरी देने के बजाय नौकरी छीनने का काम किया है।
बता दें कि शिमला ग्रामीण क्षेत्र के 70 युवा जल शक्ति विभाग में सेवाएं दे रहे थे। आउटसोर्स के माध्यम से नौकरी कर रहे इन युवाओं को मार्च माह में विभाग से निकाल दिया गया था। बेशक उनका अनुबंध पूरा हो गया हो, लेकिन उसके बाद उन युवाओं के लिए सरकार की ओर से राहत की दृष्टि से कोई भी प्रयास नहीं किए गए। खैर क्षेत्र के बेरोजगारों को विक्रमादित्य से खासी उम्मीदें थीं, जो अब धुंधली होती नजर आ रही है।
भाजपा शिमला ग्रामीण ने इसे बेरोजगारों के साथ छल करार दिया है। शिमला ग्रामीण से प्रत्याशी रहे रवि मेहता का कहना है कि सत्ता हासिल करने के लिए विक्रमादित्य सिंह ने झूठे वायदे युवाओं और महिलाओं से किए थे, जो दस माह के कार्यकाल में पता चल गए हैं। अपने विधानसभा क्षेत्र के युवाओं को 5 हजार नौकरियां देने का जो वायदा किया था, उसे समय रहते मंत्री पूरा करें, नहीं तो भाजपा मंडल इसको लेकर सड़कों पर उतरेगा।
मंडल अध्यक्ष यशपाल ठाकुर ने कहा कि विक्रमादित्य सिंह ने वोट मांगते समय चुनावी घोषणा पत्र में साफ लिखा था कि शिमला ग्रामीण के 5 हजार युवाओं को हम अलग अलग निजी क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध कराएंगे। बावजूद अभी तक एक भी युवा को रोजगार नहीं दिया गया, जो दुर्भाग्यपूर्ण है। इसकी जितनी निंदा की जाए कम है।
उधर, धरोगड़ा पंचायत से संबंध रखने वाले लोकसेवा आयोग के अवर सचिव (सेवानिवृत), एवं ग्रामीण भाजपा के उपाध्यक्ष भूप राम वर्मा का कहना है कि विक्रमादित्य सिंह ने शिमला ग्रामीण के बेरोजगार युवाओं से धोख़ा किया है। कांग्रेस ने रोजगार देने का नहीं बल्कि रोजगार छीनने का काम किया है। इसके लिए ग्रामीण की जनता उन्हें कभी माफ नहीं करेगी।
जिला परिषद सदस्य धामी वार्ड प्रभा वर्मा ने इस संबंध में कहा कि शिमला ग्रामीण के युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए हमने कई बार विधायक विक्रमादित्य सिंह के समक्ष मुद्दा उठाया है। प्रदेश में आई आपदा से जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हुआ है। आने वाले समय में इसे दोबारा से पटरी पर लाने का कार्य हो रहा है। हम उम्मीद करते हैं कि जो वायदे विधायक ने किए हैं, वे पूरे होंगे।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts