Friday, June 21, 2024

पुलिस व वन महकमें की टीम ने खनोरा में बरामद की अवैध देवदार की लकड़ी

 

  • देवदार के 182 फट्टे व कडिय़ां कब्जे में लेकर पुलिस ने दर्ज की एफ.आई.आर.

आपकी खबर, करसोग।

जिला मंडी के उपमंडल करसोग में सनारली पंचायत के गांव खनोरा में लकड़ी डिपो संचालक से अवैध देवदार की लकड़ी बरामद की गई है। खनोरा में चल रहे लकड़ी के डिपो को लेकर वन महकमें व पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि डिपो में अवैध ईमारती लकड़ी बेची जा रही है। जानकारी मिलने के बाद पुलिस व वन महकमें की संयुक्त टीम ने खनोरा में चल रहे डिपो में छापामारी कर अवैध लकड़ी बरामद करने में सफलता हासिल की। मामले की पुष्टि करते हुए डी.एस.पी. करसोग गीतांजली ठाकुर ने बताया कि पुख्ता सूचना मिलने के बाद त्वरित कार्यवाई करते हुए टीम का गठन किया गया तथा डिपो में दबिश दी गई। मौके पर डिपो संचालक तो नहीं मिला लेकिन उसका मिस्त्री वहां मौजूद था। डिपो में पड़ी देवदार की लकड़ी को लेकर पूछताछ के दौरान डिपो संचालक के कर्मियों ने बताया कि यह लकड़ी वर्ष 2019 में खरीदी गई है। जबकि मौके पर पुलिस टीम के साथ लकड़ी का मुआयना कर रही वन महकमें की टीम ने पाया कि यह लकड़ी हाल ही में देवदार के पेड़ों को ठिकाने लगाकर डिपो में बेचने के लिए पहुंचाई गई है। देवदार की लकड़ी पर किसी भी तरह का हैमर नहीं लगा है जिससे यह साबित हो सके कि यह लकड़ी अवैध नहीं है। मौके पर डिपो संचालक के कर्मियों द्वारा दिखाए गए परचेज बिलों के आधार पर भी बरामद लकड़ी का मिलाप नहीं हो पाया जिसके चलते डिपो में पड़ी देवदार की लकड़ी अवैध पाई गई है। मौके पर अवैध लकड़ी की पड़ताल करने पर देवदार के 182 फट्टे व कडियां बरामद की गई हैं। क्षेत्र में चल रहे अवैध लकड़ी का कारोबार करने वालों के खिलाफ चलाई गई विशेष मुहिम में पुलिस व वन महकमें की संयुक्त टीम को मिली इस सफलता से अवैध लकड़ी का कारोबार करने वालों में हडक़म्प मच गया है। करसोग में ईमारती लकड़ी डिपो की आड़ में अवैध लकड़ी का कारोबार करने का खुलासा होने के बाद पुलिस व वन महकमें की टीम यह पता लगाने में जुट गई है कि यह लकड़ी डिपो में कहां से लाई गई है। इसके अलावा यह जानकारी भी जुटाई जा रही है कि इस अवैध धंधे में कितने लोग शामिल हैं। वन विभाग के करसोग खण्ड वन अधिकारी की शिकायत पर पुलिस थाना करसोग में अवैध लकड़ी को लेकर एफ.आई.आर. दर्ज की गई है।

पकड़ी गई देवदार की लकड़ी की कीमत 2 लाख रूपए -डी.एस.पी.

डी.एस.पी. करसोग गीतांजली ठाकुर ने बताया कि पुलिस ने इस मामले में एफ.आई.आर. दर्ज कर आगामी कार्यवाई शुरू कर दी है। उन्होने बताया कि पकड़ी गई लकड़ी की कीमत तकरीबन 2 लाख रूपए आंकी गई है। लकड़ी को कब्जे में लेने के बाद इसे वन महकमें के सुपुर्द कर दिया जाएगा। उन्होने बताया कि जल्द ही इस मामले में डिपो संचालक से पूछताछ की जाएगी।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts