Sunday, April 14, 2024

हिमाचल की संस्कृति को देश-विदेश तक पहुंचाने का कार्य करें युवा : सुक्खू

  • हिमाचल की संस्कृति को देश-विदेश तक पहुंचाने का कार्य करें युवा : सुक्खू
  • मुख्यमंत्री ने हिमाचल स्टूडेेंट्स यूनियन के वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘हिमाचल एक झलक’ में शिरकत की

आपकी खबर, शिमला। 

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने युवाओं का आह्वान किया कि हिमाचल की समृद्ध संस्कृति को देश-विदेश तक पहुंचाने के लिए वे प्रदेश के युवा दूत के रूप में कार्य करें, ताकि विश्व हिमाचल की विशिष्टता को आत्मसात कर सके। उन्होंने आज पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ में हिमाचल स्टूडेंट्स यूनियन द्वारा आयोजित वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘हिमाचल एक झलक’ में बतौर मुख्य अतिथि अपने संबोधन में यह बात कही।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि हिमाचल की मनभावन संस्कृति, सरल रहन-सहन, सुंदर पहनावा और पौष्टिक आहार देश-विदेश के पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। युवाओं को न केवल इस विशेषता को जीवंत रखना होगा अपितु लोगों को इससे रू-ब-रू भी करवाना होगा। उन्होंने कहा कि संस्कृति और लोकाचार का प्रसार पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देकर प्रदेश की आर्थिकी को मजबूत करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्होंने कहा कि अपनी संस्कृति से जुड़कर ही सुरक्षित समाज का निर्माण किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार सत्ता को जनहित के लिए व्यवस्था परिवर्तन का साधन मानकर कार्य कर रही है। अभी तक के अपने कार्यकाल में प्रदेश सरकार ने समाज के विभिन्न वर्गों को राहत पहुंचाने का किया कार्य किया है। उन्होंने कहा कि सरकार मुख्यमंत्री सुख-आश्रय योजना शुरू कर बेसहारा एवं अनाथ बच्चों की शिक्षा एवं अन्य आवश्यकताओं को पूरा करने की दिशा में सफलता के साथ आगे बढ़ रही है।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि प्रदेश सरकार तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर रहे युवाओं को इस सत्र से ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के माध्यम से आधुनिक प्रौद्योगिकी आधारित शिक्षा प्रदान करेगी। इससे हमारे युवा तकनीकी रूप से सशक्त होकर वैश्विक स्तर पर बेहतर रोजगार प्राप्त कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार हिमाचल जैसे दुर्गम भौगोलिक परिस्थितियों वाले राज्य में ग्रामीण स्तर पर बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान करने के लिए सभी विधानसभा क्षेत्रों में चरणबद्ध आधार पर राजीव गांधी डे बोर्डिंग विद्यालय आरंभ करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार भावी पीढ़ियों को एक समृद्ध और सुरक्षित हिमाचल प्रदान करना चाहती है। इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए प्रदेश में हरित ऊर्जा को बढ़ावा दिया जा रहा है और वर्ष 2025 तक हिमाचल देश का प्रथम हरित ऊर्जा राज्य बनेगा। उन्होंने कहा कि अगले तीन वर्षों में प्रदेश में पूर्ण रूप से इलेक्ट्रिक बसों का संचालन आरंभ कर दिया जाएगा।

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि युवा देश का भविष्य है और उनकी असीमित व सकारात्मक ऊर्जा ही देश और प्रदेश की असली ताकत है। जागरूक युवा ही सशक्त समाज का निर्माण कर सकते हैं। उन्होंने युवाओं से आग्रह किया कि ज्ञान के माध्यम से सदैव जागरूक और नशे जैसी सामाजिक बुराई से दूर रहें।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर अपने छात्र और राजनीतिक जीवन की स्मृतियां सभी से साझा की। उन्होंने छात्रों का आह्वान किया कि जीवन में एक लक्ष्य निर्धारित कर आगे बढ़ें और लक्ष्य प्राप्ति के उपरांत समाज की भलाई में अपना योगदान दें।

उन्होंने इस अवसर पर हिमाचल स्टूडेंट यूनियन के सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले छात्रों को तीन लाख रुपये प्रदान करने की घोषणा की। उन्होंने हिमाचल स्टूडेंट्स यूनियन की पत्रिका का विमोचन भी किया।

इससे पूर्व हिमाचल स्टूडेंट यूनियन के अध्यक्ष सुनील ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया और यूनियन की गतिविधियों से उन्हें अवगत करवाया।

शिक्षा मंत्री रोहित ठाकुर, मुख्य संसदीय सचिव राम कुमार चौधरी, हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय से सेवानिवृत्त न्यायाधीश न्यायमूर्ति धर्म चंद चौधरी, कसौली विधानसभा क्षेत्र के विधायक विनोद सुल्तानपुरी, सुंदरनगर के पूर्व विधायक सोहन लाल ठाकुर, हिमाचल कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष अनुराग शर्मा, हिमाचल कांग्रेस के अन्य पदाधिकारी, हिमाचल स्टूडेंट्स यूनियन के पदाधिकारी, अन्य गणमान्य व्यक्ति और बड़ी संख्या में छात्र कार्यक्रम में उपस्थित थे।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts