Tuesday, April 16, 2024

प्रशासन ने हमें मृतक के घर जाने से रोका, कल 12 जिलों में करेंगे धरना प्रदर्शन : बिंदल

  • प्रशासन ने हमें मृतक के घर जाने से रोका, कल 12 जिलों में करेंगे धरना प्रदर्शन : बिंदल
  • आम जनता एक प्रश्न पूछ रही है क्या यहां पर कोई अतीक अहमद जैसा सरगना काम तो नहीं कर रहा?

 

आपकी खबर, डलहौजी/शिमला।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व विधानसभा के अध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल ने डलहौजी में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि जो हादसा चंबा में हुआ है उससे हमारे दिल को ठेस पहुंची है हम सब केवल मनोहर को न्याय दिलाने के लिए एकत्र हो रहे हैं।

 

डॉ राजीव बिंदल ने कहा कि हमने प्रशासन से बहुत गुहार लगाई और तकरीबन 4 बार उनसे मिले, 1 घंटे इंतजार किया और श्री राम जय जय राम का पाठ भी किया पर हमें पीड़ित परिवार के पास जाने की अनुमति प्रशासन ने नहीं दी। हमने प्रशासन को कहा कि अगर मुख्यमंत्री सुक्खू इस परिवार के पास चले गए होते तो हमें लगता कि प्रदेश का कोई बड़ा व्यक्ति गया है। पर प्रशासन ने हमें जाने नहीं दिया, इसलिए भाजपा ने तय किया है कि हम कल 17 जून को प्रदेश के सभी 12 जिला मुख्यालो पर एक धरने प्रदर्शन का आयोजन करेंगे और डिप्टी कमिश्नर के माध्यम से राज्यपाल को इस जघन्य हत्याकांड को लेकर एक ज्ञापन भी भेजेंगे।

 

उन्होंने कहा हिमाचल में हम कल्पना भी नहीं कर सकते हैं कि एक अकेला युवक जिसके माता-पिता है, बहनों की शादी हो गई है उसकी जघन्य हत्या की गई और शरीर के टुकड़े-टुकड़े कर नाले में डाल दिए गए।

इस प्रकार के अपराध को शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा हमारा प्रदेश देवभूमि है जा हर गांव गांव में खंड खंड में देवी देवता का वास है। वीर भूमि है यहां के वीर सपूत देश की रक्षा करते हैं और देश के लिए बलिदान देना अपना गौरव मानते हैं, पर हमारे प्रदेश में इस प्रकार का हत्याकांड जिसने हमारी आत्मा को झकझोर कर रख दिया है इससे पूरा देश और प्रदेश स्तब्ध है।

 

जिस प्रकार से अपराधी ने यह अपराध किया है हम कल्पना भी नहीं कर सकते, यह घटना नहीं सदारण है और जिस व्यक्ति ने अपराध किया है वह भी साधारण नहीं हो सकता। अगर देखा जाए तो यह एक हैबियुअल क्रिमिनल का काम है, हमारा प्रदेश एक शांतिप्रिय प्रदेश है पर इस घटना के पीछे क्या पक रहा है वह जनता जानना चाहती हैं ? कहीं गहरे राज इसे बेनकाब हो सकते हैं, क्रॉस बॉर्डर क्या पक रहा है उसका भी अंदाजा हमें इन खुलासों से हो सकता है।

सरकार ने जब से यह हत्या हुई है तब से कोई ठोस कदम नहीं उठाया है, यह तो स्थानीय लोगों ने जिस प्रकार से धरना प्रदर्शन किए हैं उसके दबाव में आकर सरकार ने अपराधी को हिरासत में लिया है।

 

बहुत सारे स्थानीय लोग इस अपराधी को बचाने का प्रयास कर रहे है। पर आम जनता एक प्रश्न पूछ रही है क्या यहां पर कोई अतीक अहमद जैसा सरगना काम तो नहीं कर रहा ? क्या इस पूरे मामले की बहुत बड़ी और गहरी जांच की जरूरत है ?

उन्होंने कहा सरकार कान खोल के सुन में सालों साल से क्या चीजें यहां तैयार हो रही है और इस इलाके में क्या नाजायज कब्जे हो रखे हैं इन सभी की गहरी जांच करने की आवश्यकता है, ताकि इस प्रकार का कोई कुकृत्य हिमाचल की धरती पर हो ना सके।

 

भाजपा का लक्ष्य किसी प्रकार का अराजकता फैलाने का नहीं है, केवल पीड़ित परिवार से मिलकर उसका मनोबल बढ़ाने का कार्य है। हम प्रशासन के साथ खड़े हैं, पर जिस प्रकार हिमाचल प्रदेश ने एसआईटी का गठन किया है वह हमें मंजूर नहीं है। शायद सरकार को इस मामले की गंभीरता समझ नहीं आ रही है। सरकार के कुछ लोग इस अपराधी को शरण देने का प्रयास कर रहे हैं , हम सरकार से एक निष्पक्ष जांच की मांग करते हैं और जिस प्रकार हमारे नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने एनआईए जांच की मांग करी है उसका हर समर्थन करते हैं।

 

इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर, विधायक हंसराज, पूर्व मंत्री राकेश पठानिया डी एस ठाकुर, विक्रम जरियाल, पवन नय्यर राजेश ठाकुर जिया लाल रीता धीमान राजेश ठाकुर अर्जुन ठाकुर अमित ठाकुर नागपाल उपस्थित रहे।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts