Tuesday, April 16, 2024

यात्रियों को बेहतर सुविधा प्रदान कर रहा करसोग बस अड्डा

एक ही छत के नीचे मिल रही विभिन्न सुविधाओं से यात्रियों सहित चालक परिचालक भी खुश

आपकी खबर, करसोग।

राज्य सरकार द्वारा करसोग में नवनिर्मित एचआरटीसी का आधुनकि बस अड्डा, आमजन को बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाने में सहायक सिद्ध हो रहा है। बस अड्डे पर मिलने वाली विभिन्न सुविधाओं से यात्रियों के साथ-साथ, करसोग डिपो में सेवाएं देने वाले चालक-परिचालक भी खुश हैं। बस स्टैंड से विभिन्न गणतव्यों के लिए यात्रा करने वाले यात्रियों सहित बस चालक-परिचालकों को सभी सुविधाएं अब एक ही छत के नीचे मिल रही है।

2.50 करोड़ से बना है बस अड्डा

नवनिर्मित बस अड्डे को चार मंजिला बनाया गया है। इसके निर्माण पर 2.50 करोड़ रुपये से अधिक की धनराशि व्यय की गई है। बस अड्डे के इस चार मंजिला भवन में यात्रियों सहित यहां सेवाएं देने वाले चालक-परिचालकों के लिए विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई है। बस अड्डे पर यात्रियों के लिए सभी सुविधाओं से सुसज्जित प्रतीक्षालय बनाया गया है। प्रतीक्षालय को इलेक्ट्रिक पंखों, पेयजल आदि सुविधाओं से लैस किया गया है। जहां पर बिना किसी असुविधा के बैठ कर यात्री अपनी बसों का इंतजार कर सकते है। यात्रियों के लिए इजी टिकट काउंटर, शाॅपिंग सैंटर, शौचालय जैसी सभी मूलभूत सुविधाएं भी उपलब्ध करवाई गई है।

सुविधा के लिए बनाई गई हैं 8 दुकानें

बस स्टैंड पर यात्रियों की सुविधा के लिए बनाए गए शाॅपिंग सेंटर में 8 दुकानें निर्मित की है। जिन्हें 33 माह की लीज पर क्षेत्र के स्थानीय लोगों को चलाने के लिए आबंटित किया गया है। बस स्टैंड में निर्मित इस शाॅपिंग सैंटर की दुकानों के माध्यम से स्थानीय लोगों को स्वरोजगार भी मिला है।

आराम कक्ष की सुविधा उपलब्ध

डिपो में कार्यरत चालक- परिचालकों की सुविधा के लिए बस अड्डा भवन में विभिन्न सुविधाओं से सुसज्जित आराम कक्ष भी बनाया गया है। जहां पर चालक-परिचालक विभिन्न रूटों पर अपनी सेवाएं देने के उपरांत आराम कर सकते है। आराम कक्ष में चालक-परिचालकों के लिए घर जैसी सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई है। विभिन्न रूटों पर सेवाएं देने के उपरांत चालक-परिचालक यहां पर रात्रि विश्राम भी कर सकते है।

सुविधाओं से यात्री भी खुश

करसोग बस अड्डे से प्रतिदिन यात्रा करने वाले यात्री, यहां उपलब्ध सुविधाओं से पूरी तरह से संतुष्ट है। यात्री जानवी निवासी चिंडी, कीरत राम निवासी तेवन, सुनील ठाकुर निवासी सेरी, प्रेमदास निवासी सराहन व चालक-परिचालक खेमचंद, प्रमोद कुमार आदि का कहना है कि पुराना बस स्टैंड बहुत छोटा था और वहां पर कोई मूलभूत सुुविधा उपलब्ध नहीं थी। जिसके कारण बहुत सी मुश्किलों का सामना करना पड़ता था। अब यहां पर नया बस अड्डा बनने से लोगों को अच्छी सुविधा मिल रही है। यात्रियों के लिए सभी सुविधाओं से लैस एक अच्छा प्रतीक्षालय बनाया गया है। जहां पर बिजली, पानी, शौचालय जैसी सभी प्रकार की मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध है। प्रतीक्षालय में गर्मी से बचने के लिए इलेक्ट्रिक पंखे आदि लगाए गए है। पेयजल की भी अच्छी व्यवस्था है। जिसके कारण अब यहां परेशानी नहीं उठानी पड़ती।

114 रूट किए जा रहे है संचालित

नवनिर्मित बस अड्डा करसोग से प्रतिदिन लगभग 114 बस रूट संचालित किए जा रहे है। इनमें 84 रूट एचआरटीसी द्वारा संचालित किए जा रहे है। जबकि 30 रूट निजी बस आपरेटरों द्वारा संचालित किए जाते है। इन सभी रूटों की बसें करसोग बस अड्डे से ही रवाना होती है। एचआरटीसी द्वारा संचालित किए जाने वाले 84 बस रूटों में करसोग दिल्ली, करसोग हरिद्वार, करसोग शिमला, करसोग मंडी सहित करसोग उपमंडल के लगभग सभी ग्रामीण क्षेत्रों, ग्राम पंचायतों को बस सेवा से जोड़ा गया है। जिससे दूरदराज के क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को आवागमन की बेहतर सुविधा मिल रही है।

बेहतर सुविधा के लिए प्रयास जारी – आरएम

करसोग स्थित एचआरटीसी के रीजनल मैनेजर हुमेश कुमार ने बताया कि क्षेत्र के लोगों को आवागमन की बेहतर सुविधा देने के प्रयास किए जा रहे है। लगभग सभी पंचायतों को बस सेवा से जोड़ा गया है। बस अड्डे पर यात्रियों की सुविधा के लिए सुविधाजनक टिकट काउंटर, प्रतीक्षालय, काॅलेज छात्रों के लिए पास काउंटर और बिजली पानी जैसी बुनियादी सुविधा उपलब्ध करवाई गई है ताकि यात्रियों को किसी प्रकार की कोई परेशानी न उठानी पड़े।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts