Saturday, April 20, 2024

मेले और उत्सव प्रदेश की समृद्ध संस्कृति के प्रतीक : राज्यपाल

  • मेले और उत्सव प्रदेश की समृद्ध संस्कृति के प्रतीक : राज्यपाल

आपकी खबर, रेणुका जी। 27 नवंबर

राज्यपाल ने शिव प्रताप शुक्ल ने अंतर्राष्ट्रीय रेणुका जी मेले के समापन समारोह की अध्यक्षता की और कहा कि मेले तथा उत्सव प्रदेश की समृद्ध संस्कृति के प्रतीक हैं। उन्होंने कहा कि हमें अपनी इस संस्कृति के संरक्षण के लिए प्रयास करने होंगे। खुशहाली के लिए आगे बढ़ने के साथ-साथ संस्कृति का संरक्षण भी आवश्यक है।

राज्यपाल ने यह जानकारी आज जिला सिरमौर के अंतर्राष्ट्रीय रेणुका जी मेले के समापन समारोह के अवसर पर जनसमूह को सम्बोधित करते हुए दी। लेडी गवर्नर तथा राज्य रेडक्रॉस अस्पताल कल्याण अनुभाग की अध्यक्ष जानकी शुक्ल भी इस अवसर पर उपस्थित थीं।

राज्यपाल ने कहा कि हिमाचल प्रदेश शिक्षा, संस्कृति तथा खुशहाली के लिए जाना जाता है लेकिन नशे की प्रवृत्ति राज्य की समृद्धि पर ग्रहण लगा रही है। उन्होंने लोगों से नशे के खिलाफ मिल-जुल कर कार्य करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि नशे का अंत केवल मौत है तथा इस बुराई से प्रदेश को बचाने की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि सिरमौर कृषि तथा बागवानी क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने जिले को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने पर बल दिया। उन्होंने जिला प्रशासन को श्री रेणुका जी झील के सौंदर्यकरण के लिए कहा।

श्री शुक्ल ने कहा कि रेणुका जी मेला माता रेणुका जी के प्रति भगवान परशुराम की श्रद्धा तथा भक्ति का प्रतीक है तथा यह मेला भारतीय समाज के उच्च मूल्यों को संरक्षित करने में अहम् भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि मेले तथा उत्सव प्रदेश की समृद्ध सांस्कृतिक धरोहर के द्योतक हैं और इन्हें हर हाल में संरक्षित किया जाना चाहिए। उन्होंने मेले के सफल आयोजन में सभी के योगदान के लिए बधाई दी तथा कहा कि माता रेणुका जी का अपना एक धार्मिक महत्व है। इस मेले में प्रदेश तथा अन्य राज्यों से श्रद्धालु दर्शन करने के लिए आते हैं।

इससे पूर्व, राज्यपाल ने भगवान परशुराम जी मंदिर तथा माता रेणुका जी मंदिर में पूजा-अर्चना की और देव विदाई शोभा यात्रा में भी भाग लिया।

उपायुक्त तथा श्री रेणुका जी विकास बोर्ड के अध्यक्ष सुमित खिमटा ने राज्यपाल का स्वागत किया तथा उन्हें सम्मानित किया। उन्होंने मेले के समापन समारोह की अध्यक्षता करने के लिए राज्यपाल का आभार व्यक्त किया। उन्होंने मेले के दौरान आयोजित विभिन्न गतिविधियों की जानकारी भी दी। उन्होंने लेडी गवर्नर को भी सम्मानित किया।

इससे पूर्व, राज्यपाल ने पदम््श्री विद्या नंद सरैक के मार्गदर्शन में 1500 से अधिक स्थानीय महिला कलाकारों द्वारा प्रदर्शित सिरमौरी नाटी का आनंद लिया।

उन्होंने सरकारी विभागों तथा गैर सरकारी संस्थानों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनियों का भी अवलोकन किया। उन्होंने प्रदर्शनियों में गहरी रूचि दिखाई तथा विभिन्न केंद्र और राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों के साथ बातचीत भी की।

सांसद सुरेश कश्यप, विधायक विनय कुमार, पुलिस अधीक्षक रमन कुमार मीणा, रेणुका विकास बोर्ड के पदाधिकारी, क्षेत्र के गणमान्य व्यक्ति तथा जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

सिरमौर आगमन पर मैना हैलीपैड पर प्रातः विधायक विनय कुमार, उपायुक्त सुमित खिमटा तथा जिला प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने राज्यपाल का स्वागत किया।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts