Sunday, May 19, 2024

कछुआ गति से हो रहा आनी में सब्जी मंडी का निर्माण कार्य

  • कछुआ गति से हो रहा आनी में सब्जी मंडी का निर्माण कार्य
  • एक साल से लग रही सुरक्षा दीवार,अभी भी अधूरी,आचार संहिता के बाद होंगे टेंडर
  • नीलामी मंच, दुकानें और ऑफिस, किसान भवन, सामुदायिक भवन, कैंटीन के निर्माण का नहीं अता पता

आपकी खबर, आनी। 14 अप्रैल

उपमंडल मुख्यालय आनी के किरण बाजार में सब्जी मंडी का निर्माण कार्य कछुआ गति से चल रहा है।

 

फलस्वरूप एक साल से ज्यादा समय से निर्माणाधीन सब्जी मंडी में अभी तक केवल सुरक्षा दीवार का ही निर्माण हो पाया है। जबकि वह भी अधूरा है, क्योंकि करीब 20 मीटर भाग में सुरक्षा दीवार अभी भी नहीं लगाई गई है, जबकि बिना सुरक्षा दीवार के गत बरसात में इसके साथ से गुजरने वाली खड्ड में बाढ़ आने पर इसका पानी अंदर घुस गया था।

हैरानी इस बात की है कि करोड़ों की लागत से सब्जी मंडी का निर्माण कार्य करवा रही एपीएमसी कुल्लू एवं लाहुल स्पीति ने बीती बरसात से सबक नहीं लिया और सुरक्षा दीवार का एक छोटा सा भाग खुला छोड़ दिया जो इस बरसात में निर्माणाधीन सब्जी मंडी को नुकसान पहुंचा सकता है।

  • गत वर्ष भी कांग्रेस के निशाने पर रहा था भाजपा का फैसला

आपको बता दें कि आनी में पूर्व भाजपा सरकार के दौरान आनी से सम्बंध रखने वाले एपीएमसी कुल्लू एवं लाहुल स्पीति के चैयरमैन रहते हुए अमर ठाकुर ने आनी के किरण बाजार में सब्जी मंडी खुलवाने के निर्णय लिया था।

लेकिन ठेकेदार द्वारा कछुआ गति से सुरक्षा दीवार के निर्माण के कारण गत वर्ष जब नदी का रुख अंदर मुड़ा तो कांग्रेस के महासचिव सतपाल ठाकुर ने भाजपा के इस निर्णय का जमकर विरोध किया था।

लेकिन अफसोस कि एपीएमसी कुल्लू एवं लाहुल स्पीति ने इससे भी सबक नहीं लिया।

  • नीलामी मंच, दुकानें और ऑफिस, किसान भवन, सामुदायिक भवन, कैंटीन का निर्माण अभी बाकी

आनी के किरण बाजार में करोड़ों रुपयों से ज्यादा की लागत से बनने वाली इस सब्जी मंडी में नीलामी मंच, दुकानें और ऑफिस, किसान भवन, सामुदायिक भवन, कैंटीन आदि का भी प्रावधान रहेगा, जिसका निर्माण कार्य शुरू होना अभी बाकी है।

  • आनी के अलावा साथ लगते मंडी जिला की कई पंचायतों को होगा लाभ

आनी व आसपास का क्षेत्र बागवानी और कृषि पर निर्भर है।

सेब आनी व आसपास के क्षेत्रों की नकदी फसल है । ऐसे में आनी में सब्जी मंडी के निर्माण से क्षेत्र के हजारों बागवानों को अपनी साल भर की कमाई को प्रदेश की विभिन्न सब्जी मंडियों तक पहुंचाने की सिरदर्द से छुटकारा मिल सकता है और उनका उत्पाद घरद्वार आसानी से बिक सकता है।

लेकिन जिस रफ्तार से इसका निर्माण कार्य चल रहा है ऐसे में अभी क्षेत्र के बागवानों और किसानों को सालों और इंतजार करना पड़ सकता है।

  • क्षेत्र के किसान बागवान साल के 12 महीनों कर सकेंगे फल एवं सब्जियों का व्यापार

इस सब्जी मंडी में फलों के अलावा सब्जियों का व्यापार साल के 12 महीनों जारी रहेगा।

ताकि आनी क्षेत्र के अलावा साथ लगते मंडी और शिमला जिला के किसानों और बागवानों को अपने कृषि एवं बागवानी उत्पादों को बेचने के लिए यहां वहां न भटकना पड़े। लेकिन सब्जी मंडी के निर्माण में बरती जा रही ढील से क्षेत्र की जनता खासी नाराज है।

एपीएमसी कुल्लू एवं लाहुल स्पीति के सचिव शगुन सूद ने बताया कि सुरक्षा दीवार के बचे हुए काम का फिर से टेंडर लगना है जो आदर्श आचार संहिता के बाद लगेगा। जबकि सुरक्षा दीवार पूरी होने के बाद साइट डिवेलपमेंट का काम होगा।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts