Saturday, April 20, 2024

सुक्खू सरकार के कार्यकाल में 40 हत्याएं, 150 रेप और 183 अपहरण के मामले आए सामने : भाजपा

प्रदेश भाजपा ने राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन, उठाई चार प्रमुख मांगें

आपकी खबर, शिमला।

नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और हिमाचल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल के नेतृत्व में आज पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ला को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के माध्यम से प्रदेश भाजपा ने वर्तमान प्रदेश कांग्रेस सरकार को चंबा में हुए मनोहर हत्याकांड और प्रदेश में चल रही कानून व्यवस्था को लेकर आड़े हाथ लिया। नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल ने कहा भारतीय जनता पार्टी चंबा जिला के ग्राम पंचायत भांदल स्थित थरोली गांव, जो कि जिला केन्द्र से 60 किमी की दूरी पर स्थित है, में पिछले दिनों मनोहर लाल नामक युवक, जिसकी आयु लगभग 25 वर्ष थी, की निर्मम हत्या के संबंध में आपका ध्यान आकर्षित करना चाहती है। गांव के लोगों की जानकारी के मुताबिक मनोहर नामक युवक 6 जून, 2023 को प्रातः 7 बजे घर से निकला परन्तु शाम को जब वह घर वापिस नहीं लौटा तो परिवार वालों को आशंका हुई और उन्होनें इसकी रिपोर्ट किहार थाने में दर्ज करवाई। उसके उपरांत परिवार वालों ने पुलिस व गांव वालों के साथ मिलकर मनोहर की तलाश शुरू की और 8 जून, 2023 को मनोहर का शव गांव से कुछ दूर नाले में बोरी में क्षत-विक्षत हालत में मिला। ज्ञापन के माध्यम से अवगत करवाया गया है कि मनोहर के शरीर के 8 टुकड़े किए गए थे और इसलिए इस निर्मम हत्याकांड को महज एक हत्या के रूप में नहीं देखा जा सकता क्योंकि हिमाचल प्रदेश में इस तरह की अमानवीय घटना आज से पूर्व न देखी और न सुनी। इस सनसनीखेज हत्याकांड ने पूरे हिमाचल और समस्त हिमाचलवासियों को दहला कर रख दिया है। महत्वपूर्ण विषय यह है कि इस नृशंस हत्या में जिस परिवार की गिरफ्तारी हुई है, वह एक विशेष समुदाय से सम्बन्ध रखता है। भारतीय जनता पार्टी का मानना है कि घटना के पीछे जिस आरोपी का हाथ बताया गया है उसकी पृष्ठभूमि पहले से ही संदिग्ध रही है और उसका परिवार आपराधिक घटनाओं में संलिप्त रहा है। गांव के लोगों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस बाहुबली ने कई बीघा सरकारी भूमि पर अवैध कब्जा कई वर्षों से कर रखा है। इस क्षेत्र में इस घटना से पहले भी कई भेड़ पालकों और फुहालों के गायब होने की सूचनाएं समय-समय पर मिलती रही है। इस घटना के बाद चंबा जिला के साथ-साथ पूरे प्रदेश में आकोश का वातावरण बना हुआ है। राजीव बिंदल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि सभी आरोपियों की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एन.आई.ए.) के माध्यम से हो ताकि इस परिवार की संदिग्ध गतिविधियों की सही जानकारी मिल सके। इस हत्याकांड के आरोपियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट के माध्यम से प्रतिदिन सुनवाई हो और आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी दी जाए। जिला की उंची पहाड़ियों पर चारागाह परमिट की जांच की जाए और इसका आंबटन दोबारा से किया जाए। हिमाचल प्रदेश में बाहरी राज्यों से आने वाले विशिष्ठ समुदायों के लोग, जो अनेक प्रकार के छोटे-बड़े कारोबार कर रहे हैं, उनकी बाकायदा नियमानुसार वैरिफिकेशन की जाए, क्योंकि अकसर सूचनाएं मिलती है कि बंगलादेशी ध् रोहिंग्या जगह-जगह हिमाचल प्रदेश में बस रहे हैं। जयराम और बिंदल ने कहा कि इस प्रकार की घटनाएं हिमाचल प्रदेश को शर्मसार कर रही है। ऐसा प्रतीत होता है कि हिमाचल प्रदेश में कानून व्यवस्था पूर्ण रूप से चरमरा गई है। नालागढ़ में पुलिस की लापरवाही के कारण पुलिस कस्टडी में एक व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है जिससे जनता में भारी रोष व्याप्त है। सिरमौर में पुलिस राह चलते युवकों पर प्रहार करती है, युवक के कान का पर्दा फट जाता है और न सरकार, न प्रशासन, कोई व्यक्ति इस घटना पर गौर तक नहीं करता। शिमला में लगातार लावारिस शवों के मिलने से ऐसा प्रतीत होता है कि हिमाचल प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार के मात्र 6 महीने के कार्यकाल में ही 40 से अधिक हत्याएं, 150 से अधिक रेप केस और 183 अपहरण के मामले दर्ज हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश जो देवभूमि के नाम से विख्यात है, अपनी कानून व्यवस्था, शांतिप्रियता एवं शालीनता के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध हैं परन्तु उक्त नृशंस हत्याकांड से हिमाचल की छवि खराब हुई है। अतः भारतीय जनता पार्टी इस ज्ञापन के माध्यम से आपसे सादर मांग करती है कि हिमाचल प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था का कड़ा संज्ञान लेते हुए इस हत्याकांड की जांच राष्ट्रीय जांच ऐजेन्सी (एन.आई.ए.) से करवाई जाए ताकि इस मामले की सत्यता जनता के सामने आ सके और आरोपियों को कड़ी सजा मिल सके। हिमाचल प्रदेश में कहीं ना कहीं स्टेट स्पॉन्सर्ड कानून अव्यवस्था चल रही है। इस अवसर पर राजभवन के बाहर भाजपा द्वारा प्रदर्शन भी किया गया जिसमें शिमला जिला अध्यक्ष और शिमला, शिमला ग्रामीण और कसुंपति के मंडल अध्यक्ष उपस्थित रहे। भाजपा कार्यकर्ताओं ने इस दौरान कांग्रेस सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts