Wednesday, November 30, 2022

झूठ को सीढ़ी बनाकर सत्ता में आना चाहती है कांग्रेस, नेता जनता को कर रहे भ्रमित : रश्मिधर सूद

  • झूठ को सीढ़ी बनाकर सत्ता में आना चाहती है कांग्रेस, नेता जनता को कर रहे भ्रमित : रश्मिधर सूद
  • कांग्रेस पार्टी के हालात की सच्चाई बयां कर गई प्रतिभा सिंह शीर्ष नेतृत्व से उठ चुका है सबका भरोसा
  • आम आदमी पार्टी से झूठ बोलने का क्रैश कोर्स करके लौटी है अल्का लांबा

आपकी खबर शिमला। 

बीजेपी महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष रश्मिधर सूद ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस का कौन कप्तान है इसका अता पता नहीं है और जो टीम में हैं वो टीम को छोड़कर भाग रहे हैं। कांग्रेस में गुटबाजी चरम पर है और कांग्रेस के लोग अपने ही नेताओं पर विश्वास नहीं जता पा रहे। कांग्रेस पार्टी में परिवारवाद की जड़ें इस कदर हावी है कि कांग्रेस के नेता इससे बाहर ही नहीं निकलना चाहते, कई परिवार वर्चस्व की लड़ाई लड़ रहे।

हिमाचल में हालात यह है कि कांग्रेस का कोई भी नेता पार्टी के साथ नहीं चल रहा। इसी कारण दिल्ली की फलोप नेत्री अल्का लांबा से ब्यान दिलवाए जा रहे हैं। यह वही अल्का लांबा है जो आम आदमी पार्टी में जाकर झूठ बोलने का क्रेश कोर्स करके आई हैं।

रश्मिधर सूद ने कहा कि कुछ दिन पहले जहां हिमाचल कांग्रेस राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाने के लिए रेसोलुशन पास करती है तो दूसरे दिन हिमाचल कांग्रेस की अध्यक्ष ये बयान देती हैं कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के पास हिमाचल के नेताओं के लिए समय नहीं है।

सूद ने कहा कि प्रतिभा सिंह ने यह सच्चाई बयान की है। लेकिन जब दिल्ली दरबार से सच्चाई बोलने पर फटकार पड़ी तो मीडिया पर बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश करने का आरोप लगा दिया।

यह पहला मौका नहीं है जब प्रतिभा सिंह ने अपने विवादित बयानों का ठीकरा मीडिया पर फोड़ा हो। इससे पहले गुड़िया मामले और करगिल पर भी वो विवादित बयान दे चुकी हैं। और उसका दोष मीडिया पर मढ़ चुकी हैं। प्रतिभा सिंह के लगातार विवादित बयानों की वजह से पूरी पार्टी परेशान है लेकिन खुद को लोकतांत्रिक पार्टी बताने वाली कांग्रेस के नेताओं की मजबूरी है कि वो राजवाड़ा शाही पर कुछ नहीं बोल पाते। देश और प्रदेश में कांग्रेस आज एक ही परिवार की जागीर बनकर रह गई है। वरिष्ठ नेताओं की सुनी नहीं जा रही, जिसके कारण उन्हें पार्टी छोड़नी पड़ रही है।

इनके पूर्व विधायक सुभाष मंगलेट अपने पार्टी के सर्वे और कार्यप्रणाली पर ही सवाल उठा रहे है। अलका लांबा को आड़े हाथों लेते हुए रश्मिधर सूद ने कहा कि कांग्रेस की एक मोहतरमा आजकल हिमाचल घूमने आई हुई हैं। न तो उन्हें हिमाचल के बारे में कोई जानकारी है और न ही यहां के मुद्दों की समझ। अलका लांबा इस तरह के झूठे बयान दे रही हैं जिससे वो मीडिया में बनी रहें और आश्चर्य यह है कि क्या पार्टी के पास कोई स्थानीय नेता वक्ता नहीं है जो पार्टी का पक्ष रख सके । कांग्रेस के यह नेता सिर्फ और सिर्फ जनता को गुमराह कर उन्हें भ्रमित करने का काम कर रहे हैं। जबकि वो प्रदेश की जमीनी सच्चाई से जरा भी अवगत नहीं हैं।

प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के झूठे आंकड़े पेश कर रही हैं। सूद ने कहा कि राजनीतिक लाभ लेने से पहले वो विस्तृत अध्ययन कर लें और हिम्मत है तो सच्चाई को जनता के सामने रखें।

 

मैं उनको बताना चाहूंगी की भाजपा सरकार ने उज्जवला और ग्रहनी सूविधा से आज प्रदेश के 4.73 लाख परिवार इन दोनों योजना का लाभ ले रहे हैं। यही नहींए दोनों योजनाओं की लाभार्थियों के लिए एक साल में तीन सिलेंडर मुफ्त में रीफिल करके दिए जा रहे हैं। अब तक 2.67 लाख से ज्यादा लाभार्थी पहला निशुल्क रीफिल और 89 हजार से ज्यादा लाभार्थी को दूसरा निशुल्क रीफिल ले चुके हैं।

सूद ने कहा कि कांग्रेस झूठ को सीढ़ी बनाकर सत्ता में आना चाहती है और इनके नेता लगातार जनता को भ्रमित करने में लगे हुए हैं। जनता को बरगलाने के लिए झूठी गारंटियां दी जा रही हैं। जिस तरह से आज अपने दिए बयानों को लेकर इनके नेता मुकर रहे हैं और कार्य प्रणाली पर सवाल उठा रहे है ठीक वैसे ही यह इन गारंटियों को लेकर भी यह मुकर जाएंगे।जनता यह सब देख समझ रही है और आने वाले चुनाव में इसका जवाब कांग्रेस का सूपड़ा साफ करके देगी।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related Articles

spot_img

Latest Posts